सावन के इस पहले हप्ते पाये भगवान शिव और विष्णु की विशेष कृपा जुलाई के तीसरे सप्ताह में सावन सोमवार के साथ हैं 3 महत्वपूर्ण व्रत

Devotional Informational

सावन माह का हमारे हिन्दू धर्म में धार्मिक रूप से बहुत बड़ा महत्व होता है। बतादे के इस साल जुलाई मा​ह के तीसरे सप्ताह का प्रारंभ सावन माह के पहले सोमवार व्रत से हो रहा है. यह सप्ताह 18 जुलाई से 24 जुलाई तक है. इस सप्ताह में तीन महत्वपूर्ण व्रत आने वाले हैं, जिसमें सावन सोमवार व्रत, मंगला गौरी व्रत और कामिका एकादशी व्रत (Kamika Ekadashi) शामिल हैं।

सावन माह में भगवान शिव की पूजा अर्चना के लिए बहुत बड़ा महत्व का माना जाता है। बतादे के यह सप्ताह भगवान शिव और भगवान श्रीहरि विष्णु की पूजा के लिए है. वैसे सावन का हर दिन ही शिव पूजा के लिए अच्छा होता है. चलिए आपको बताते है आने वाले हप्ते में आपको कौन कौन से व्रत रखने ने भगवान की कृपा बनी रहेगी।

जुलाई 2022 तीसरे सप्ताह के व्रत और त्योहार

18 जुलाई, सोमवार: पहला सावन सोमवार व्रत

पहला सावन सोमवार व्रत 2022: सावन का पहला सोमवार व्रत 18 जुलाई को है. इस दिन रवि योग और शोभन योग बना है. इस योग में पूजा पाठ करना अच्छा रहता है. सावन सोमवार व्रत करने से योग्य जीवनसाथी, संतान, सुख, समृद्धि, उन्नति आदि प्राप्त होती है. यदि आप पूरे वर्ष सोमवार व्रत करना चाहते हैं, तो सावन माह में इसका प्रारंभ कर सकते हैं. भगवान शिव की पूजा में सफेद फूल अर्पित करना चाहिए।

19 जुलाई, मंगलवार, पहला मंगला गौरी व्रत

पहला मंगला गौरी व्रत 2022: सावन के हर मंगलवार को मंगला गौरी व्रत होता है. इस साल सावन का पहला मंगला गौरी व्रत 19 जुलाई को है. इस दिन सुहागन महिलाएं अपने पति की लंबी आयु, सुखी दांपत्य जीवन और संतान की खुशहाली के लिए व्रत रखती है और माता गौरी यानी देवी पार्वती की पूजा करती हैं. मंगला गौरी व्रत करने से मनोकामनाएं पूरी होती हैं.

24 जुलाई, रविवार: कामिका एकादशी

कामिका एकादशी व्रत 2022: सावन माह के कृष्ण पक्ष की कामिका एकादशी व्रत 24 जुलाई को है. इस दिन भगवान विष्णु की पूजा करते हैं और कामिका एकादशी व्रत कथा का पाठ करते हैं. इस व्रत को करने से जाने अनजाने में किए गए पाप नष्ठ होते हैं, ब्रह्म हत्या के दोष से भी मुक्ति मिलती है. भगवान विष्णु की कृपा से व्यक्ति को मृत्यु के बाद मोक्ष की प्राप्ति होती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *